गुज़र जाएगा Guzar Jayega Song Lyrics – Amitabh Bachchan

गुज़र जाएगा Guzar Jayega Song Lyrics – Amitabh Bachchan

Guzar Jayega Lyrics is a humble initiative of all the artists and personalities standing together for the people, assuring them “This too shall pass”. The song features Amitabh Bachchan and many other Indian artists.

Special Thanks to Shri. Amitabh Bachchan Featuring Indian Artists

सिंगर्स: Anoop Jalota, Sonu Nigam, Shaan, Shreya Ghoshal & More
आर्टिस्ट्स: Ananya Birla, Anjum Chopra, Babita Phogat, Bhaichung Bhutiya, Deepa Malik, Ekta Kapoor, Juhi Chawla & More
रिटेन & डिरेक्टेड: Jay Verma
प्रोडूसेड: Varun Prabhudayal Gupta, Jay Verma, Vinay Vashisth, Teena Swayyam, Ampliify Times, Creative Bazaar
सपोर्टेड & स्ट्रैटेगिज़ेड: Ankur Rana
मीडिया पब्लिसिस्ट: Ebrahim Contractor, Pearl Media Communication
म्यूजिक कंपोजर: Jazim Sharma
लिरिक्स: Siddhant Kaushal

 Guzar Jayega Song Lyrics in Hindi 

गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
मुश्किल बहुत है, मगर वक्त ही तो है
गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
ज़िंदा रहने का ये जो जज़्बा है फिर उभर आएगा
गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
माना मौत चेहरा बदलकर आई है
माना मौत चेहरा बदलकर आई है
माना रात काली है, भयावह है, गहराई है
लोग दरवाज़ों पे, रस्तों पे रुके बैठे हैं
लोग दरवाज़ों पे, रस्तों पे रुके बैठे हैं
कई घबराए हैं, सहमे हैं, छिपे बैठे हैं
मगर यक़ीन रख…
मगर यक़ीन रख, ये बस लमहा है
दो पल में बिखर जाएगा
ज़िंदा रहने का ये जो जज़्बा है फिर असर लाएगा
मुश्किल बहुत है, मगर वक्त ही तो है
गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
बिन कहे कभी-न-कभी हक़ीक़त लेती है इम्तिहाँ
पर खरे उतरने की नसीहत देती भी तो है, हाँ
बिन कहे कभी-न-कभी हक़ीक़त लेती है इम्तिहाँ
पर खरे उतरने की नसीहत देती भी तो है, हाँ
उधड़ा जो पड़ा, साहस ये सिल जाएगा
देखते ही देखते (राख़ से तू खिल पाएगा)
गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
बंदेया, ये समाँ गुज़र जाएगा
गुज़र जाएगा (गुज़र जाएगा)
बेबसी का मकाँ (गुज़र जाएगा)
गुज़र जाएगा (गुज़र जाएगा)
बंदेया, ये समाँ गुज़र जाएगा
बाज़ार ख़ाली, सड़कें सूनी, मोहल्ले वीरान हैं
बाज़ार ख़ाली, सड़कें सूनी, मोहल्ले वीरान हैं
ख़ौफ़ बरपा है, हर तरफ़ लोग हैरान हैं
ये वो कहर है जो दुनियाँ को डराने आया
ये वो कहर है जो दुनियाँ को डराने आया
मगर नासमझ है जो इंसाँ को हराने आया
इतिहास गवाह है, ये मसला भी सुलझ जाएगा
इतिहास गवाह है, ये मसला भी सुलझ जाएगा
ज़िंदा रहने का ये जो जज़्बा है, गुम हुआ है, टूटा नहीं
ज़िंदा रहने का ये जो जज़्बा है, गुम हुआ है, टूटा नहीं
यही जज़्बा फिर असर लाएगा, फिर उभर आएगा
मुश्किल बहुत है, मगर वक्त ही तो है
गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
मीलों दूर तक ना कोई रास्ता ‘गर दिखे
ऐसे में यक़ीनन कंधे हैं दोनों झुके
तेरी हैसियत की सर-ए-आम बोली लगेगी
अनहद खर्च करके (ही कमाएगा तू फ़तेह)
है बदलता जब समय तो राहें भी हैं बदलती
उधड़ा जो पड़ा, साहस ये सिल जाएगा
देखते ही देखते राख़ से तू खिल पाएगा
गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
बंदेया, ये समाँ गुज़र जाएगा
गुज़र जाएगा (गुज़र जाएगा)
बेबसी का मकाँ गुजर जाएगा
गुज़र जाएगा (गुज़र जाएगा)
बंदेया, ये समाँ (गुज़र जाएगा)
गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
बंदेया, ये समाँ गुज़र जाएगा
गुज़र जाएगा, गुज़र जाएगा
बंदेया, बंदेया
पीठ करके न बैठ तू मुश्किल वाल
साईं तेरे नाल ऐ, मिल जावेगा हाल
हौसला नहीं हरिदा (हौसला नहीं हरिदा,बंदेया)
हौसला नहीं हरिदा, बंदेया
हो, जायेगा हल
Guzar jayega, guzar jayega
Mushkil bahut hai, magar wakt hi toh hai
Guzar jayega, guzar jayega
Zinda rehne ka yeh jo jazba hai phir ubhar aayega
Guzar jayega, guzar जायेगा
Maana maut chehra badalkar aayi hai
Maana maut chehra badalkar aayi hai
Maana raat kaali hai, bhayaawah hai, gehraai hai
Log darwaazon pe, raston pe ruke baithe hain
Log darwaazon pe, raston pe ruke baithe hain
Kai ghabraye hain, sahme hain, chhipe baithe hain
Magar yakeen rakh…
Magar yakeen rakh, yeh bas lamha hai
Do pal mein bikhar jayega
Zinda rehne ka yeh jo jazba hai phir asar layega
Mushkil bahut hai, magar wakt hi toh hai
Guzar jayega, guzar jayega
Bin kahe kabhi-na-kabhi haqeeqat leti hai imtihaan
Par khare utarne ki naseehat deti bhi toh hai, haan
Bin kahe kabhi-na-kabhi haqeeqat leti hai imtihaan
Par khare utarne ki naseehat deti bhi toh hai, हाँ
Udhda jo pada, saahas ye sil jayega
Dekhte hi dekhte (Raakh se tu khil payega)
Guzar jayega, guzar jayega
Bandeya, yeh samaan guzar jayega
Guzar jayega (Guzar jayega)
Bebasi ka makaan (Guzar jayega)
Guzar jayega (Guzar jayega)
Bandeya, yeh samaan guzar jayega
Baazar khaali, sadkein sooni, mohalle veeran hain
Baazar khaali, sadkein sooni, mohalle veeran hain
Khauf barpa hai, har taraf log hairaan hain
Yeh woh keher hai jo duniya ko daraane aaya
Yeh woh keher hai jo duniya ko daraane aaya
Magar nasamajh hai jo insaan ko haraane aaya
Itihaas gavaah hai, yeh maslaa bhi sulajh jayega
Itihaas gavaah hai, yeh maslaa bhi sulajh jayega
Zinda rehne ka yeh jo jazba hai, gum hua hai, toota nahi
Zinda rehne ka yeh jo jazba hai, gum hua hai, toota nahi
Yahi jazbaa phir asar layega, phir ubhar aayega
Mushkil bahut hai, magar wakt hi toh hai
Guzar jayega, guzar jayega
Meelon door tak na koi raasta ‘gar dikhe
Aise mein yakeenan kandhe hain dono jhuke
Teri haisiyat ki sar-e-aam boli lagegi
Anhad kharch karke (Hi kamayega tu fateh)
Hai badalta jab samay toh raahein bhi hain badalti
Udhda jo pada, saahas yeh sil jayega
Dekhte hi dekhte raakh se tu khil payega
Guzar jayega, guzar jayega
Bandeya, yeh samaan guzar jayega
Guzar jayega (Guzar jayega)
Bebasi ka makaan gujar jayega
Guzar jayega (Guzar jayega)
Bandeya, yeh samaan (Guzar jayega)
Guzar jayega, guzar jayega
Bandeya, yeh samaan guzar jayega
Guzar jayega (Guzar jayega)
Bandeya, bandeya
Pith karke na baith tu mushkil wal
Saai tere naal ae, mil jaavega hal
Hausla nahi haarida (Hausla nahi haarida, bandeya)
Hausla nahi haarida, bandeya
Ho, jayega hal

 

Leave a Comment